हैदराबाद की गंगा-जमनी तहज़ीब

निज़ाम शासित हैदराबाद सिर्फ़ नवाबों का ही शहर नहीं है, यह बात हम पहले ही बता चुके है।

हैदराबाद शहर का बाहरी हिस्सा तेलंगाना क्षेत्र है, इस क्षेत्र के जो लोग हैदराबाद में बसे है उन्हें तेलंगे कहते है जिसका अर्थ है तेलंगाना के बाशिंदे यानि तेलंगाना के लोग। हैदराबाद में इस तरह मराठी भाषी या महाराष्ट्र से आ कर बसे लोगों को मरेठे कहा जाता है। राजस्थान से आए लोग मारवाड़ी कहलाते है।

इसके अलावा उत्तर भारत से आए कायस्थ और खत्री भी यहाँ बसे है। लोधी समाज भी यहाँ बसा है जिनकी संस्कृति राजपुतानी है, आज भी कुछ घरों में एक्का दुक्का घोड़े नज़र आते है। इन सब के अलावा मूल रूप से मुसलमान तो यहाँ है ही।

पहले हैदराबाद शहर का केन्द्र बिन्दु चारमीनार था। चारमीनार की पूर्व दिशा में कायस्थ और खत्री बसते थे। पश्चिम में लोधी, यहाँ का एक ख़ास हिस्सा लोधीवाड़ा कहलाता था। उत्तर में मारवाड़ियों की बस्ती थी। दक्षिण में मक्का मस्जिद के आस-पास मुसलमान बसते थे। यहीं पर एक जनजाति के लोग बसते थे जिन्हें पारदन कहते है जिसके आगे मरेठों की बस्ती थी। तेलंगे सब जगह बसते थे।

शहर के कोनों में एक और जनजाती के लोग बसते है जिन्हें लम्बाड़ी कहते है। वास्तव में लम्बाड़ियों का काम नाच-गाना हैं क्योंकि यह बंजारा लोग है पर बाद में यह लोग मज़दूरी करने लगे। इनकी संस्कृति बिल्कुल ही अलग है ख़ासकर इनकी वेशभूषा जो आज भी वही है जिस पर अलग से चिट्ठा फिर कभी…

लेकिन यह सब इतने पास-पास बसते थे कि मिली जुली संस्कृति नज़र आती थी। इसीलिए सभी त्यौहारों पर पूरे शहर में रौनक हुआ करती थी। यहाँ मनाए जाने वाले त्यौहार - दशहरा, दीपावली, ईद, बकरीद, होली, संक्रान्ति। इसके अलावा मुहरम भी परम्परागत ढंग से मनाया जाता जिसके लिए पूरा शहर बन्द रहता था। यहाँ उत्सव और लोकपर्व भी धूमधाम से मनाए जाते जैसे 10 दिन का गणेश उत्सव, 2 दिन का भोनाल और लोकपर्व बतकम्मा।

अब शहर का विस्तार होने से, आबादी बढने से सब घर बिखर गए है।

तेलंगों के धार्मिक पर्व भोनाल और लोक पर्व बतकम्मा के बारे में विस्तार से चर्चा किसी और चिट्ठे में…

Advertisements

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s